स्त्रीकाल शोध जर्नल (33)

स्त्रीकाल ऑनलाइन शोध पत्रिका का आख़िरी अंक है. इसके बाद हम सिर्फ प्रिंट अंक ही प्रकाशित करेंगे. जिसमें हम वैसे ही आलेख लेते हैं जिनकी अकादमिक गुणवत्ता हमारी दृष्टि में श्रेष्ठ है. नियमित ऑनलाइन भी स्त्रीकाल का जरी रहेगा.

हमसे आगे जुड़े रहने और स्त्रीकाल में योगदान के लिए www.streekaal.com विजिट करते रहें और आजीवन सदस्य भी इस पोर्टल के माध्यम से बनें, प्रिंट अंक आपको मिलते रहेगा. 

इस अंक में: 

शालेहा प्रवीन,  सत्यवंत यादव, मंजुला दास,  राहुल प्रसाद, साधना वर्मा,  पंकज कुमार वर्मा,  डॉ. रंजन पाण्डेय,  डॉ० अनुराधा पाण्डेय,  प्रीतिमाला सिंह,  अनुराग सिंह चौहान, हरि राम, हेतराम,  आरती, कुमारी मनीषा  सुन्नी कुमारी, मोहन सिंह यादव, ओम प्रकाश साह, खुशबू,  लीना बीएल, सुशील कुमार, सुरेश कुमार जिनागल, विजय कुमार,  अजय कुमार सिंह, सीमा मिश्र, सुनील सिंह जाधव,  स्वाति चौधरी,भारती,  गोविन्द थापा क्षेत्री, शशि , डॉ. इनु कुमारी

पढ़ने के लिए नॉटनल के इस लिंक (स्त्रीकाल अंक 33) को क्लिक करें और वांछित आलेख पढ़ें. कीमत: रूपये 30

स्त्रीकाल का प्रिंट और ऑनलाइन प्रकाशन एक नॉन प्रॉफिट प्रक्रम है. यह ‘द मार्जिनलाइज्ड’ नामक सामाजिक संस्था (सोशायटी रजिस्ट्रेशन एक्ट 1860 के तहत रजिस्टर्ड) द्वारा संचालित है. ‘द मार्जिनलाइज्ड’ मूलतः समाज के हाशिये के लिए समर्पित शोध और ट्रेनिंग का कार्य करती है.
आपका आर्थिक सहयोग स्त्रीकाल (प्रिंट, ऑनलाइन और यू ट्यूब) के सुचारू रूप से संचालन में मददगार होगा.

लिंक पर  जाकर सहयोग करें . डोनेशन/ सदस्यता
आपका आर्थिक सहयोग स्त्रीकाल (प्रिंट, ऑनलाइन और यू ट्यूब) के सुचारू रूप से संचालन में मददगार होगा.
‘द मार्जिनलाइज्ड’ केप्रकाशन विभाग  द्वारा  प्रकाशितकिताबेंपढ़ें . लिंक पर जाकर ऑनलाइन ऑर्डर कर सकते हैं:‘द मार्जिनलाइज्ड’ अमेजन,  फ्लिपकार्ट
संपर्क: राजीव सुमन: 9650164016, themarginalisedpublication@gmail.com

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here