लड़की पर हमले का इंतजार कर रही है मुम्बई पुलिस : सेना के अफसर...

शिलांग में  कार्यरत सेना के अफसर की धमकी , गालियों और पीछा किये जाने से डरी मुम्बई की लड़की प्रियंका पांडेय ने मुम्बई के...

अपने बच्चों को दूर रखे मर्दानगी की पाठशाला से

इमारतों में बनी पाठशालाएं, जहां हमने अक्षर ज्ञान की शुरुआत की और दुनिया भर का ज्ञान ग्रहण किया। जहां अध्यापकों ने परीक्षाओं का डर...

ताकि बलात्कार पीड़िताओं को बार –बार बलात्कार से न गुजरना पड़े

संजीव चंदन बलात्कार पीडिताओं को लेकर भारतीय समाज अजीब मर्दवादी मानसिकता में जीता है. अभी कल ही खबर आई कि बलात्कार पीडिता को उसके बलात्कारी...

वर्मा जी,शर्मा जी, रावत जी, सबके हैं संबंध बच्चियों के बलात्कार काण्ड से

स्त्रीकाल डेस्क  इधर देश का ध्यान मीडिया ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की लम्बी बीमारी के बाद मृत्यु पर केन्द्रित कर रखा है उधर...

आधुनिक पीढ़ी से मुझे आशा है कि परिवर्तन लाएगी : ममता कालिया

( प्रज्ञा पांडे के अतिथि सम्पादन में हिन्दी की पत्रिका ' निकट ' ने स्त्री -शुचितावाद और विवाह की व्यवस्था पर एक परिचर्चा आयोजित...

जहानाबाद (बिहार) में बलात्कारियों को बचाने में लगी पुलिस:सामाजिक कार्यकर्ताओं पर दर्ज किया मुकदमा

निवेदिता  बिहार के जहनाबाद जिले में नाबालिगों से लगातार हुए सामूहिक बलात्कार के मामले में पुलिस आरोपियों को बचा रही है और न्याय की मांग...

भाजपा सीएम की पत्नी उनके खिलाफ उत्पीड़न और घरेलू हिंसा की शिकायत लेकर पहुँची...

देब ने 2018 में त्रिपुरा के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली थी. वे वहां के लोकप्रिय मुख्यमंत्री मानिक सरकार को सत्ता से हटाकर मुख्यमंत्री बने थे और इस तरह वामपंथी सरकार के बदले वहां आज भाजपा की सरकार है. ।

लिखने बैठा अभिजीत भट्टाचार्य की कुंठा लिख बैठा सहारनपुर का जोश

संपादकीय  यह पहली बार नहीं है कि अभिजीत भट्टाचार्य ने अश्लील और आपत्तिजनक टिप्पणियाँ की है, और न ही यह पहली बार है कि बॉलीवुड...

बहुत खूब कंगना राणावत, सलमान खान कुछ सीखो

मनीषा कुमारी  कंगना राणावत ने गोरा बनाने के क्रीम को नस्लभेदी दायरे में रखते हुए ऐसे विज्ञापन करने से मना कर दिया. इस निर्णय से...

क्या मैं अंदर आ सकती हूं , भगवन् !

 राम पुनियानी यह अजीब संयोग है कि इन दिनों मुसलमान और हिन्दू समुदायों की महिलाओं को एक ही मुद्दे पर संघर्ष करना पड़ रहा है-आराधनास्थलों...
249FollowersFollow
606SubscribersSubscribe

लोकप्रिय

कुछ अल्पविराम

लेडी श्रवण कुमार-भारतीय समाज की इस विडंबना की ओर संकेत किया है जहां पुरूष कोई कार्य करता है तो उसे समाज उसकी सराहना करता है। श्रवण कुमार की सेवा भक्ति का जिक्र हर एक की जुबान पर मिलता है। मगर हमारे देश में महिलाएं सेवाकर्म बरसों से करती आ रहीं हैं। मगर घर-परिवार हो या समाज सबने उसके योगदान को नजरअंदाज किया है।